#rana

Maharana Bhupal Singh Ji of Mewar (1884 - 1955)
श्री जी हुज़ूर एकलिंग दीवान महाराणा श्री भूपाल सिंह जी मेवाड़

32nd Maharana of Udaipur & 74th Maharana of Mewar (r.1930-55) “The most pathetic person in the world is someone who has sight but no vision.” -Helen Keller

A man with a vision is most definitely the strongest. This suffices the tale of a king who envisaged a life for himself and his people and fought the evil outside and within. Maharana Bhopal Singh of Mewar was born to Maharana Fateh Singh. At a young age of sixteen, he was paralysed from waist down but this did not deter him from replicating courage and bravery of his forefathers.

He ascended the throne in 1930 after his father’s death but was exercising power since 1921 after the British curbed his father Maharana Fateh Singh’s power and advised him to resign in favour of his nominated heir. Maharana Bhopal Singh was given the power to rule and he steered India during the era of turbulence, when the nation was fighting for Independence. He could foresee the changes that were happening across the country and encouraged political and social transformations. Like his ancestors he served for social augmentation of his kingdom and built various schools and colleges, especially for girls. He reformed the social and judicial powers of his state. As an environmentalist he organised long term afforestation programs for the Aravalis and began constructing Bhopal Singh dam.

After independence from the British Empire, he merged his state into the Rajasthan Union and was appointed as the Maharajpramukh of Rajasthan by the Indian government, the only title of its kind in India. He served his people and their interests even though the sovereignty of Mewar had ended. He died in 1955 with Maharana Bhagwat Singh as his adopted heir.

Even though the Maharana was physically handicapped and lacked certain physical attributes, nonetheless his courage fought till the end and he went on to become a great ruler and guided Mewar through India’s tumultuous era with a deep sense of patriotism, retaining the pride of his Suryavanshi ancestors.

#Rajputana #Rajput #Singh #Banna #Braed #Hindu #Rajasthan #Rajputs #Thakur #Rana

0💬

Ho sempre pensato che il più grande privilegio, sollievo e conforto dell’amicizia è che non si deve spiegare nulla••🍇💙🍷🐸 #friendshipgoals #friends #sisters #bestfriend #vany #rana #crickcrack #sunshine #winelover #winenot #enotecanazionale #sunglasses #castagne #caldarroste #birolle

1💬

Birthday special pic of bahubalii #prabhas #anushka #tammanah #rana!!!!

0💬

*सत उच्चरवानुं, तप करवानुं ऐ चारण नुं कर्म हतुं*
आज कार्तिक सूद चतुर्थी, पारकर चारण समाज की अडाभीड शख्सियत रघाजी लांगाजी झीबा की पुण्यतिथि पर सत सत नमन। वर्तमान समय पाकिस्तान स्थित पारकर के देदळाइ गांव में जन्मे रघाजी अपनी साहसिक प्रवृत्ति के कारण मशहूर हुए। उन्होंने युवा अवस्था में प्रवेश करने के साथ ही पाकिस्तानी शासन में भी अपने गांव में शिकारी प्रवृत्तियों पर रोक लगाई। जिस कारण उन्हें कई संघर्षों का सामना करना पड़ा। पारकर में एक बडे संघर्ष में देदळाइ में 1400 एकड़ जमीन गौचर में तब्दील करवाइ। 1971 के भारत पाकिस्तान के बीच युद्ध के बाद सह परिवार भारत आए, और तत्कालीन महाशक्ति आइ श्री सोनलमा के दर्शन करने के लिए कणेरी पधारे। और आइमां से उनके नाम पर नया ग्राम बनाने के आशीर्वाद प्राप्त किए। उसके अनुसार गुजरात के कच्छ जिले के लखपत तहसील में 1987 में *सोनलपुर* गांव की स्थापना की। वर्तमान समय में सोनलपुर पाकिस्तान से आए पारकर के चारणों का सब से बड़ा गांव है। स्वमान और सत्य के लिए किसी भी सता से लोहा लेते न घबराना उनकी खासियत रही। कइ बड़े संघर्षों में भी उन्होंने कभी भी पीछेहट नहीं की ये बात समग्र पारकर समाज में विदित है। उन्होंने आजीवन गौसेवा, शक्ति उपासना, साहस वृत्ति, बेबाक सत्य वचन के व्रत का पालन किया। विक्रम संवत 2058 कार्तिक चतुर्थी के आज ही के दिन इस महान आत्मा ने जगदम्बा स्मरण करते नश्वर देह को त्याग दिया। लेकिन उनके विचार आज भी आदर्श के रूप में हमें प्रेरणा दे रहे हैं। हमें गर्व है कि हम ऐसे महान आत्मा के वंशज है। आज उनकी पुण्यतिथि के दिन उनके चरणों में कोटि कोटि वंदन के साथ आप के बताए मार्ग पर चलने के आशीर्वाद की अपेक्षा
-समस्त देदळाइ झीबा(चारण) परिवार
.
.
#banna #rajput #rajputana #baisa #rajasthan #jaipur #jodhpur #poshak #beauty #kunwar #thikana #thakur #rana #india #dance #rajputitude #marwar #royaltyofindia #mewar #bikaner #kota #udaipur #rajputanawedding #charan #gadhavi #cute #mrroyalbanna #instarajput #rajputswag #royal

0💬

*गेरो ने नसिहत दी,, और दिया अपनो ने धोखा....* *ये दुनिया है साहब, यहाँ चाहिए हर किसी को मोका🌱* #he...#rana...

8💬

भारतीय राजनीति के आधुनिक चाणक्य

पूर्व उपराष्ट्रपति स्व. श्री भैरोंसिंह शेखावत (बाबोसा) की आज 92 वीं जयंती है.शेखावत जनसंघ जनता पार्टी एवं भाजपा के वरिष्ठ राजनेता थे. प्रदेश में पहली बार गैर कांग्रेसी सरकार बनाने वाले बाबोसा ही थे.वे प्रदेश के तीन बार मुख्यमंत्री रहे और देश के 11 वें उपराष्ट्रपति बने तक का सफर तय किया था.
अपनी पत्नी सूरज कंवर से दस रुपये उधार लेकर थानेदार से उपराष्ट्रपति बनने तक का सफर .

जन्म :- 23 अक्टूबर 1923 को धनतेरस के दिन.
जन्म स्थान :- ग्राम खाचरियावास तहसील दांतारामगढ़ जिला सीकर
पिता :- ठाकुर श्री देवी सिंह शेखावत.
माता : बन्ने कंवर.
शिक्षा :- हाई स्कूल.
प्रथम चुनाव :- दांतारामगढ़ विधायक.
जनसंघ से पहली बार सन् 1952 में विधायक बने. बाबोसा राज्य विधानसभा के ऐसे सौभाग्यशाली विधायक रहे है जिन्होंने प्रथम विधानसभा से लेकर ग्यारहवीं विधानसभा के सदस्य बने रहने का गौरव हासिल किया है.अलबत्ता आपको सन् 1971 में पांचवी विधानसभा का चुनाव जीतने का अवसर नहीं मिल पाया.आप प्रदेश में सबसे ज्यादा चुनाव लड़ने वाले राजनेता थे.बाबोसा को सन् 1975 में प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा इमरजेंसी लगाए जाने पर 19 महीने जेल में रहना पड़ा.प्रदेश में पहली बार गैर कांग्रेसी सरकार के बाबोसा 22 जून 1977 से 16 फरवरी 1980 तक मुख्यमंत्री रहे.दूसरी बार 4 मार्च 1990 से 15 दिसंबर 1992 तक l तीसरी बार 4 दिसंबर 1993 से 29 नवंबर 1998 तक प्रदेश के मुख्यमंत्री पद पर रहे.देश के 11 वें उपराष्ट्रपति के पद पर 19 अगस्त 2002 से 21 अगस्त 2007 तक रहकर प्रदेश का नाम गर्व से ऊंचा किया था और फिर बाबोसा ने राष्ट्रपति का चुनाव लड़ा. अलबत्ता आप राष्ट्रपति का चुनाव हार गए और उन दिनों से अस्वस्थ रहने लगे तथा 15 मई 2010 को बाबोसा इस दुनिया को अलविदा कह गए l ऐसे महापुरुष हमेशा अमर रहते है।
.
.
#banna #rajput #rajputana #baisa #rajasthan #jaipur #jodhpur #poshak #beauty #kunwar #thikana #thakur #rana #india #dance #rajputitude #marwar #royaltyofindia #mewar #bikaner #kota #udaipur #rajputanawedding #charan #gadhavi #cute #mrroyalbanna #instarajput #rajputswag #royal

0💬

#djanemag 투표는 10월 31일까지 계속됩니다~💕 #rana #djrana
-
https://djanemag.com/djanes/rana
-
Still open to vote for "RANA" at DJANE MAG top 100!
Dont forget to vote for South East Asia (SEA) Top 50 too 🙂
-
ตอนนี้ ติดเข้ามาอยู่ 1 ใน 100 ของ DJANE MAG ยังไงอย่าลืมช่วยเลือก RANA ด้วยนะคะ

3💬

@@Nabila Rana Afifah lg menghayalkan sesuatu😃😍@#Rana music

0💬